ममेरी बहन की सील तोड़ी

(Mameri Bahan Ki Seal Todi)

मामा की लड़की के साथ चुदाई करने वाली कहानियाँ आप दोस्तों ने hindi sex stories में कितनी बार पढ़ी होंगी तो मेरे साथ बीती यह कहानी को भी पढ़ें एक अलग नज़रिए में..

मैं आज आपको अपनी सच्ची कहानी बता रहा हूँ। मेरा नाम दीपक है और मैं जयपुर का रहने वाला हूँ। मेरे मामा जी को एक लड़की और एक लड़का है। लड़की की उम्र 16 साल और लड़के की उम्र 14 साल है।

लड़की का नाम सोनिया है, हम लोग सोनिया को प्यार से सोनू कहकर के बुलाते हैं। जब मैंने सोनू को पहली बार नंगी देखा था तब वह 10 साल की थी और उस वक़्त घर पर सोनू का छोटा भाई, मैं और मेरा छोटा भाई था।

वह एकदम कामुक लग रही थी तब से मैं उसे चोदने के सपने देखने लगा इस कारण मैं कभी कभी मुट्ठ भी मार लिया करता था। ऐसे करते करते कुछ समय बीत गया। जब वह 16 साल की हुई तो और भी कामुक लगने लगी।

एक दिन मामा जी के घर पर कोई नहीं था तो मामा जी ने मुझे घर पर बुला लिया क्योंकी घर पर सोनू अकेली थी मामा जी शाम को ही घर आते।
मैं और सोनू बोर हो रहे थे तो सोनू ने कंप्यूटर में मूवी चला दी और हम दोनों मूवी देखने लगे।

मूवी में एक सीन ऐसा था जिसमें हीरो और हिरोइन कामुक अवस्था में थे, सोनू ने कुछ देर यह देख और उस सीन को आगे निकालने लगी, तो मैंने कहा की रहने दे कितना मजा आ रहा है। तो उसने कहा की यह गन्दा सीन है तो मैंने कहा की यह गन्दा सीन नहीं है, यह तो सभी लोग करते हैं।

उसने पूछा की सभी लोग क्यों करते हैं तो मैंने कहा की सभी को मजा आता है। उसने कहा की हम भी मजा करें। मैं तो यही चाहता था। मैंने ‘हाँ..’ कह दिया।
मैंने सोनू से कहा की यह बात किसी को भी मत बताना तो सोनू ने हाँ में जवाब दिया। यह कहते ही मैंने घर के सभी दरवाजे बंद कर दिए और मैंने सोनू को वहीँ पर किस करना चालू कर दिया।

सोनू ने कुछ काना कानी की लेकिन उसको भी मजा आने लगा। मैं किस करते करते उसके बोब्बे भी दबाने लगा तो सोनू ने कहा यह आप क्या कर रहे हो तो मैंने कहा की इससे बहुत मजा आता है, तो उसने कहा की आप और दबाओ और मैं उसको किस करने के साथ साथ उसके बोब्बे भी दबाने लगा।

उसके बाद सोनू सिसकियां लेने लगी, मैं सोनू को किस करने के साथ उसके पेट पर हाथ फेरने लगा जिससे वह गर्म होने लगी। अब मैंने सोनू को बेड पर लेटा दिया और उसके ऊपर हो कर के किस करने लगा। अब मैं धीरे धीरे उसकी चूत पर हाथ फेरने लगा।

उसके मुँह से ‘आ.. आ.. आ..’ की आवाज करने लगी तथा वह छटपटाने लगी। फिर मैं उसके बोब्बे चूसने लगा। उसको मजा आने लगा फिर मैंने देर न करते हुए अपने हाथ को उसकी चूत पर रख दिया।

और धीरे धीरे चूत पर हाथ फेरने लगा उसको और भी मजा आने लगा। फिर मैंने अपनी अंगुली उसकी चूत में जैसे ही डाली उसके मुँह से ‘आहह..’ की आवाज आई और उसने मेरे हाथ को पकड़ लिया।
फिर उसने कहा की आप यह मत करो मुझे दर्द हो रहा है तो मैंने कहा की शुरु शुरू में दर्द होगा फिर नहीं होगा तो वह मान गई फिर मैंने जल्दी न करते हूँए अपनी अंगुली उसकी चूत में धीरे धीरे डालने लगा।

Comments

Scroll To Top