समलिंगी लड़कियाँ

दो लड़कियों या दो औरतों के बीच, यौनांगों को चूसने चाटने से मजे लेने की कहानियाँ..

Do Ladkiyan Ya Do Aurton Ke Beech, Younango Ko Chusne Chatne Se Maze Lene Ki Kahaniyan..

Lesbo Stories.. Stories Of Intimate Sex Relations Between Two Pussies..

चुदाई का सफर: चूत चूत का खेल 6

कशिश ने अपना गाउन पहना और छाया ने अपने कपड़े पहने। पहले की तरह, ना तो कशिश ने उसके गाउन के नीचे ब्रा और चड्डी पहनी थी और ना ही छाया ने अपने कपड़ों के नीचे ब्रा और चड्डी पहनी थी। क्यों की वो दोनों ही जानती थी की चुदाई अभी बाकी है।

चुदाई का सफर: चूत चूत का खेल 5 HOT!

वो दोनों ही झड़ चुकी थीं और वो दोनों बहुत खुश थीं और संतुष्ट भी थीं। उन्होंने एक दूसरी के सेक्सी और नंगे बदन को अपनी बाहों मे लिए, झड़ने का मज़ा लिया। लेकिन पता नहीं क्यों, शायद ये सोच कर की पता नहीं दुबारा छाया के साथ लेज़्बीयन चुदाई करने का मौका कब मिले, कशिश छाया के साथ और भी लेज़्बीयन चुदाई करना चाहती थी। उसके पास अभी पूरा मौका था।

चुदाई का सफर: चूत चूत का खेल 4 HOT!

अब वो दोनों एक दूसरी के सामने पूरी तरह “नंगी” खड़ी थीं और वो एक दूसरी के नंगे सेक्सी बदन को निहारने लगे। जब कशिश के पति उसे चोदते हैं तो ज़्यादातर वो चुदाई मे बढ़ चढ़ कर, हिस्सा लेती है और ज़्यादातर लगता है, जैसे वो उनको चोद रही हो। मगर पता नहीं क्यों, इस बार वो चाहती थी की छाया का उसकी चुदाई मे मुख्य रोल हो।

चुदाई का सफर: चूत चूत का खेल 3

छाया ने कशिश को अपने बारे मे बताया। उस ने कहा की वो सिंह साब (मनप्रीत का पति) की दूर की रिश्तेदार है और वो उसके ऑफीस मे उसकी सेक्रेटरी का काम करती है। उस ने कशिश को ये भी बताया की वो अब “कुँवारी” नहीं है। मनप्रीत के पति सिंह साब ने करीब 6 महीने पहले उसकी “कुंवारेपन की सील” तोड़ दी थी। कशिश को ये सुन कर आश्चर्य हुआ क्यों की उसे पता था ..

चुदाई का सफर: चूत चूत का खेल 2

कुछ दिन पहले, जब कशिश ने मनप्रीत और छाया को आपस मे चूत चूत खेलते देखा था तो उसने बड़ी मुश्किल से अपने आप को उनके खेल मे शामिल होने से रोका था। उसकी किस्मत अच्छी है की आज छाया खुद उसके घर चल कर आई है और कशिश के पास उसके साथ चूत चूत खेलने का पूरा मौका था।

चुदाई का सफर: चूत चूत का खेल 1

छाया ने एक शॉर्ट स्कर्ट और ढीला ढाला टॉप पहन रखा था। मुझे सॉफ सॉफ पता चल गया की उसने अपने टॉप के नीचे ब्रा नहीं पहनी है। उसकी चुचियाँ आकार मे छोटी, गोल गोल थी और उसकी निप्पल्स तनी हुई सी लग रही थी। उसके टॉप के महीन कपड़े से अंदर का नज़ारा दिख रहा था।

सहेली थी रांड चाटी चूत और गाण्ड 4 HOT!

लेखिका – बिंदु सम्पादिका – मस्त कामिनी मेरे हाथ उसकी गाण्ड पर कस गये और मैं हाथों से उसकी गाण्ड दबाने लगी। शशि अपनी कमर उचका कर मेरी ज़ुबान पर ऐसे धक्के मारने लगी, जैसे कोई मर्द किसी रांड़ को चोद्ते वक्त करता है… वो बस आहें भरे जा रही थी – आ उन्ह… चाट […]

सहेली थी रांड चाटी चूत और गाण्ड 3

लेखिका – बिंदु सम्पादिका – मस्त कामिनी उसकी “फूली हुई गुलाबी फांकों वाली चूत” से रस की एक बूँद टपक कर बिस्तर की चादर पर गिर पड़ी। जहाँ पर चादर गीली हो गई… मैं उठ कर बैठ गई और अपनी चूत पर हाथ फेरने लगी… मेरी चूत में एक “भयानक जवालामुखी” फट रहा था… शशि […]

सहेली थी रांड चाटी चूत और गाण्ड 2

लेखिका – बिंदु सम्पादिका – मस्त कामिनी मेरी सहेली मुझे “मंतर मुग्ध” कर चुकी थी। उसकी हर बात मेरे अंदर की औरत का एक नया भाग नंगा कर रही थी, एक नयी उमंग जागृत कर रही थी… अब मैं इस चालू शशि के “नग्न जिस्म” से लिपट जाना चाहती थी, उसके जिस्म के उभारों को […]

Scroll To Top