मामी की मालिश और चुदाई एक साथ

6 min read

आपको Desi Sex kahani पसंद है, तो आज पेश है आपके लिए मेरे और मेरी मामी के साथ हुई चुदाई की कहानी जिसमें मैं जब गाँव गया तब उनकी मालिश की और जमकर चुदाई की..

बहुत दिनों बाद गया मामी के घर

हेलो दोस्तो!

मेरा नाम सन्नी है और मैं फगवाड़ा पंजाब से हूँ! पिछले कुछ सालों में मेरी सेक्स स्टोरी की बहुत सी कहानियाँ पढ़ी हैं!

इसलिए, मैं भी आपको अपनी कहानी भेजना चाहता था! यह मेरी पहली कहानी है! कहानी पिछले साल की है जब मैं अपनी मामी के घर गया था।

दरअसल उन्होने ही मुझे अपने पास बुलाया था, यह कहकर कि अब तो तू बहुत बड़ा हो गया होगा, क्योंकि उन्होने मुझे बचपन में देखा था!

उनके यहाँ कोई शादी थी, तो उन्होने मुझे बुलाया था और बोली, कि इसी बहाने तू यहाँ आ भी जाएगा!

मेरा भी घूमने का बड़ा मन कर रहा था, तो मैंने भी तैयारी कर ली।

मामी की मचलती जवानी को देखा

मेरी मामी भोपाल में रहती हैं। मैं भोपाल पहुँचा और मामी के घर आकर दरवाज़ा खटखटाया!

मेरी तो आँखें फटी रह गई! जब मामी को देखा सच बता रहा हूँ! दोस्तो, पहली बार में ही लण्ड खड़ा हो गया! जो पहले कभी नही हुआ था, मामी क्या कहर ढा रही थी!

उनकी गांड मेरी आँखों में चढ़ गई थी! मामी मुझे देख कर बहुत खुश हुई! और मुझे देखते ही अन्दर ले गई मैं सबसे मिला।

सब बहुत खुश हुए! पर मामी बहुत खुश हुई, पता नही क्यों, मामी बोली कि अब तू आ गया है अब तुझे जाने नही दूँगी!

सब हँसने लगे! सबने मुझे सोने के लिए जाने को कहा, क्योंकि मैं सफ़र से थक कर आया था, मैं सोने चला गया!

अगली सुबह मैं दस बजे सो कर उठा! मामाजी ड्यूटी चले गए थे और बच्चे स्कूल चले गए थे, घर में मैं और मामी अकेले थे!

मामी मेरे बेड के सामने ही झाड़ू लगा रही थी, तो उनके बड़े बड़े तरबूज जैसे मम्मे लटक रहे थे मेरा तो लण्ड ही खड़ा हो गया।

मामी की चुदासी बातें करना

किसी तरह मैंने उसे बैठाया, और मामी को गुड मॉर्निंग कहा! मामी भी जल्दी से मेरे पास आ कर बैठ गई!

मेरे गाल पर किस कर दिया! मेरा लण्ड फिर खड़ा हो गया और बोली, कि तू तो बहुत बड़ा हो गया और स्मार्ट भी!

मैं शर्मा गया और हाँ! बोल दिया।

हमारी बातें शुरू हो गई पर मेरा लण्ड खड़ा ही रहा! मामी की गांड मारने का बहुत मन कर रहा था!

मामी पूछी- तेरी कोई गर्लफ्रेंड है?

मैंने बोला- नहीं!

मामी बोली- तू झूठ बोल रहा है ना?

मैंने फिर से बोला- नहीं!

मामी की चुदासी इरादों को जानना

मुझे मामी के इरादे ठीक नही लग रहे थे!

मैंने भी मामी को कहा, कि आप बहुत खूबसुरत हो! अगर आपकी शादी ना हुई होती, तो मैं आपसे ही शादी कर लेता!

मामी हल्के से हँसी और फिर मेरे गाल पे किस कर दिया!

अब मुझसे सहन नही हो रहा था, इतने में मामी ने कमर पर हाथ रख दिया और बोली, कि आजकल कमर बहुत दर्द होती है मेरी!

मुझे एक मौका मिल गया! मैं बोला, कि मैं बहुत बढ़िया मसाज कर लेता हूँ! आप बोलो तो कर दूँ!

मामी तो शायद! चाहती ही यही थी बस!


मामी बाथरूम में कपड़े उतार कर तौलिया लपेट कर आ गई, अब मुझे उनकी गांड की असली शेप लग गया!

सच बता रहा हूँ! दोस्तो, उससे ज़्यादा खूबसुरत और सेक्सी मुझे कोई नही लग रही थी! मैंने मामी को बेड पर लेट जाने को कहा।

उनसे सरसों का तेल माँगाया! मैंने उनकी ऊपर से मसाज करनी शुरू की! उनकी पीठ पर अच्छे से मसाज की!

मैं अपना हाथ उनके मम्मों की तरफ ले गया! मामी में हल्का सा करेंट आया, और उन्होने आँखें बंद कर ली!

मैं धीरे धीरे मैं उनका तौलिया नीचे करता रहा!

मामी को पूरा नंगा बदन देखा

मुझे एक तरकीब सूझी! मैंने मामी को कहा, कि मामी तेल से मेरे कपड़े खराब हो रहे हैं मैं उतार दूँ क्या?

मामी ने हँस कर- हाँ कहा!

अब मेरी लॉटरी लग गई! मैंने अपने कपड़े उतारे! अंडरवियर भी उतार दिया, अब मैं धीरे धीरे मामी की गांड तक पहुँच गया!

मामी को बोला- मामी अब तो तौलिया नीचे करना पड़ेगा।

मामी बोली, कि कर दो!

अब जन्नत का टाइम था! मामी की गांड बहुत बड़ी थी कसम से! मैंने जल्दी जल्दी मसाज शुरू की!

अब मैं ऐसे बैठ गया जैसे मेरे दोनों पैर मामी की गांड के दोनो तरफ! और अब मेरा लण्ड मामी की गांड की दोनों फाँकों के अन्दर था!

मैंने पीठ की मसाज शुरू कर दी, अब तो मुझे जन्नत मिल गई थी, मामी को भी मज़ा आ रहा था!

अब उनके चेहरे से पता चल रहा था, कि उन्हे मज़ा आना शुरू हो गया था!

मामी ने लण्ड चूस कर मदहोश किया

जल्दी ही मामी बोली- आकाश अब सहन नही होता अन्दर डाल भी दो!

अब अब मुझे छूट मिल गई, मैंने जल्दी से अपना लण्ड उनके होंठों पर लगा दिया, वो उसे लोलीपॉप समझ कर चूस रही थी!

मेरा माल तो वहीँ छूट गया फिर उन्होने कहा, कि जल्दी से गांड मार दो प्लीज़! मैंने भी जल्दी की और उन्हें घोड़ी बनने को कहा!

मैंने तेल अपने लण्ड पर और उनकी गांड पर भी लगा दिया।

वो मचल उठी! अपने एक शौंक के बारे में बता दूँ कि मुझे बस गांड मारने का ही शौंक है!

मैंने हल्का सा अपना लण्ड अन्दर किया, तो बस सुपाड़ा अन्दर जाते ही वो चीख पड़ी!

मामी के दमदार गांड चुदाई

मुझे पता लग गया! कि मामा जी ने मामी की गांड की सील नही तोड़ी है, फिर मैंने एक और झटका मारा और पूरा लण्ड अन्दर चला गया!

मामी को बहुत दर्द हुआ! वैसे लण्ड पहली बार इतनी जल्दी अन्दर नही जाता है, पर सरसो के तेल से आप जल्दी ही अपना लण्ड अन्दर कर सकते हैं!

हाँ! कभी भी तेल बरतने में कंजूसी ना करें! नही तो आपका लण्ड भी अन्दर नही जाएगा और गांड वाले को भी बहुत दर्द होगा!

मैंने मामी का चेहरे को मज़बूती से दबा लिया था, ताकि उनकी चीख ना निकले वो दर्द के मारे छटपटा रही थी!

पाँच-सात मिनट बाद उनका दर्द कम हो गया और उसके बदले में उन्हें मज़ा मिलने लगा!

अपने आप उनकी चीखें बंद हो चुकी थी, और मज़ा आने लगा था मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था!

थोड़ी देर बाद मेरा भी छूट गया, और मैं और मामी वहीँ लेट गए मामी बोली, कि तू भी बड़ा हो गया और तेरा लण्ड भी!

मैं हँस दिया, अब मामी मुझे बाथरूम में नहलाने ले गई, वहाँ मेरा लण्ड धोकर फिर चूसने लगी!

बहुत मज़ा आया और कुछ देर बाद जब मेरा लण्ड फिर खड़ा हुआ, तब एक बार फिर मैंने बाथरूम में उनकी गांड मारी!

यह सिलसिला जब तक मैं वहाँ रहा! तब तक चला, अब मैं घर आ गया हूँ पर मामी को बहुत मिस करता हूँ!

जब कभी फिर मौका मिले तो फिर मामी के पास जा कर उनकी गांड मारूँगा
कहानी कैसी लगी ज़रूर बताएँ!
धन्यवाद!
[email protected]

Desi Sex kahani के इस कहानी में मामी मुझसे रसीली बातें करने लगी जिससे मैं जान पाया कि मामी भी मुझसे चुदना चाहती है यह जानकर मैं उनके तेल लगने के बहाने से मामी को नंगी किया और पूरे बदन की मालिश की और उनकी जमकर गांड चुदाई की!!

Written by

guruji

Leave a Reply