उसकी खुशी में ही मेरी खुशी है-2

6 min read

मेरे हाँ करते ही उस महिला की ख़ुशी का कोई ठिकाना ही नहीं रहा अब indian sex stories के इस भाग में मैंने उसकी ख़ुशी के मुताबिक उसकी बरसों की प्यास बुझा दी..

अब तक आपने पढ़ा..

बेड पर लेटते ही उसने अपनी पैंटी उतारी। मैं उसे ऐसे ही देखता रह गया, उसने मुझे आँख मार कर कहा, अब सिर्फ देखोगे या करोगे भी। क्योंकि उसकी चूत पूरी क्लीन शेव थी जैसे आज के हि प्रोग्राम के लिए ये सब किया हो।
मैंने उसे प्यार किया और अपने दो फिंगर उसके चूत मे डाल दिए और उँगली को काफ़ी तेज़ी में अंदर बाहर करने लगा, वो काफी मजे से एन्जॉय कर रही थी, वो कुछ मिनिट्स में ही झड़ गयी।

अब आगे..

मेरे ऐसे करने से वो काफी गरम हो चुकी थी और जोर जोर से आवाजे निकाल रही थी। वो आवाज़ सुनकर मुझे काफ़ी जोश आया था। तभी उसने मेरे बालों को पकड़ा और अपने जांघो के बीच अपने चूत पर जोर से दबाने लगी।

मुझे थोड़ा गिल्टी फील हुआ लेकिन काफी मजा भी आ रहा था। अब वो इतनी गरम हो चुकी थी कि खुद बर्दाश्त नही कर सकती थी। वो मुझे बोलने लगी प्लीज़ अनीकेत अंदर डाल दो। 4 सालों से प्यासी हूँ। मुझे उसके उपर दया आ रही थी और मजा भी आ रहा था।

मुझे मालूम था कि औरत को जितना तड़पाओगे उतना ज्यादा मजा आता है। फ़िर मैने अपना लंड उसके चूत के अंदर डालने कि कोशिश कि मगर नही गया क्योंकि मेरा लंड कुछ ज्यादा मोटा और लम्बा है। उसने कहा मैं चिल्लायी तो भी तुम रुकना मत।

मैंने हाँ कह दिया, फ़िर मैंने उसके बाजू मे रखी ऑइल कि बॉटल ली और अपने लंड पे और उसके चूत पे डाल दी फ़िर से ट्राय किया। इस बार सिर्फ मेरे लंड का टोपा अंदर गया था फ़िर भी वो काफी जोर से चिल्ला पड़ी।

मैंने उसे किस करना भी स्टार्ट किया और साथ में बूब्स दबाने लगा जिससे उसकी आवाज़ मे कमी आ गयी। जब वो फ़िर से नॉर्मल हुई तो मैंने फ़िर से ट्राय किया, इस बार मेरा लंड काफी डीप गया था। अब मैं पहले स्लोली कर रहा था। जिससे उसको दर्द भी कम हो और मजा भी आता रहे।

फ़िर आहिस्ते आहिस्ते अपनी स्पीड बढ़ा ली और उसे पूरे जोश से चोदने लगा। वो काफी एन्जॉय कर रही थी, मैं भी उसके साथ काफी मजे लेता रहा, थोड़ी देर बाद मेरा पानी निकलने वाला था, उसने अंदर ही छोड़ने के लिए कहा। मैने उसे एक जोर का झटका दिया और अंदर ही झड़ गया।

हमने उस वक्त 20 मिनिट चुदाई कि झड़ने के बाद मैंने उसे किस स्टार्ट रखा और साथ में उसके बूब्स भी चुसता रहा। मेरा ऐसे करने से उसको फ़िर से कुछ मिनिट्स में जोश आ गया और साथ मे मुझे भी। इस चुदाई मे वो दो बार झड़ चुकी थी।

फ़िर वो वहाँ से उठकर फ्रीज कि तरफ़ गयी और वहाँ से ठंडी आइस क्रीम ली और उसे मेरे लंड पर डाल दिया। इसबार हम सिक्स्टी नाइन की पोज़िशन मे आ गए थे।
मुझे एक दम से दर्द का एहसास हुआ क्योंकि आइस क्रीम काफी ठंडी थी पर उसने चूसना स्टार्ट कर दिया जिससे मजा आने लगा। वो काफी अच्छी तरह से सक कर रही थी लाइक प्रोफेशनल पोर्न एक्ट्रेस हो।

उस वक्त मैं तो जैसे खो गया था। मैं भी उसकी चूत चुसता रहा और उसके चुत के दाने को काटने लगा, मेरी पूरी जीभ उसकी चूत में डाल दी। मैं उसके चुसाई करते वक्त उसके मुँह में ही झड़ गया। वो मेरा सारा कम पी गयी।

उसने मेरा लंड फ़िर से चूसकर अगले राउंड के लिए खड़ा कर दिया और मैंने उसे फ़िर से इशारे से कहा लेट जाओ, आय एम अगेन रेडी फॉर नेक्स्ट राउंड, वो जोर से हँस पड़ी और बेड पर जाकर अपनी पैर उठाके लेट गयी, फ़िर मैने उसके चूत पर अपना लंड रखा और जोरदार शुरुवात की।

और इस बार हमने काफी देर तक सेक्स चालू रखा फ़िर अचानक से टाइम देखा काफ़ी रात हो चुकी थी। मैं निकलने हि वाला था कि उसने मुझे फ़िर से रोक लिया और अपने गांड कि तरफ़ इशारा किया, ऑलरेडी मैं काफी लेट था लेकिन उसने रिक्वेस्ट कि ये लास्ट, मैं भी राजी हो गया।

मै फ़िर से रेडी था, उसने मेरे लंड को हाथ से पकड़ा और गांड के छेद पर रखा मगर छेद छोटा होने कि वजह से मेरा लंड अंदर नही गया। मैने लंड पर फ़िर से ऑइल लगाया और लंड अंदर धकेलना स्टार्ट किया, धीरे धीरे लंड अंदर जा रहा था।
उसे दर्द भी हो रहा था। मगर मैंने उसकी चिंता नही कि और एक हि झटके से पूरा लंड उसके गांड मे डाल दिया और रुक गया ।

थोड़ी देर बूब्स दबाने लगा, जब दर्द कम हुआ तो फुल स्पीड मे उसे डॉगी स्टाइल मे चोदने लगा और साथ मे उसके बूब्स भी जोर जोर से दबाने लगा, उसके बूब्स ज्यादा मसलने कि वजह से लाल पड़ गए, हमने काफी देर सेक्स किया।

मैं उसके चेहरे पर जो खुशी थी उस वक्त वो खुशी मैं भी महसूस कर रहा था। क्योंकि उसकी बरसों की मनोकामना मैंने पूरी कर दी थी। काफी रात हो चुकी थी मैंने उसे फ़िर से लम्बी किस करके चला गया वहाँ से।

अब हमें जब भी टाइम मिलता है, हम फ़िर से शुरू हो जाते हैं और वे मुझे इसके लिए अच्छे पैसे देती है। इस काम में मैं भी खुश हूँ और मैंने ये सब उसकी खुशी के लिए किया ना ही खुद के मजे के लिए।

धन्यवाद आपका मेरी पूरी कहानी पढ़ने के लिए अगर कोई फीडबेक देना हो या मुझसे बात करनी हो और फ़ेसबुक के ज़रिए जुड़ने के लिए आप ई-मेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। अपने विचार ज़रूर लिखिएगा, आपका नया दोस्त अनीकेत।

[email protected]

दोस्तों मैं उस महिला को ख़ुशी देने के लीये वह सब कुछ किया जो उसने सोचा मात्र था और मेरी चुदाई उसके बरसों की प्यास को शांत कर दिया जिससे मैं भी खुश हो गया क्योंकि वह खुश हो गई थी.. आप सबों को कैसी लगी मेरी यह indian sex stories पेशकश अपने खुले कमेंट्स जरुर मेल करके बताएं..

Written by

akash

Leave a Reply