चैट द्वारा चूत चोदा भाभी की

(meri sex stories Chat Dwaara Chut Choda Bhabhi Kee)

हॉस्टल के नियम कानून के कारण मैं किसी लड़की को चोद वहाँ नहीं सकता था पर meri sex stories की किस्से में मुझे चैट के द्वारा एक लड़की मिली जिसे मैंने जमकर चोदा..

हाय दोस्तो,

मेरा नाम मोहम्मद है और मैं गुजरात के सूरत का रहने वाला हूँ। राजकोट नाम के शहर में पढ़ाई करता हूँ।

यह कहानी जनवरी 2015 में मेरे साथ घाटी सच्ची घटना की है। मैं एक मुस्लिम युवक हूँ और मास्टर्स में पढाई करने की लिए राजकोट नाम के गुजरात के शहर में आया हूँ।

मेरी लम्बाई 5′ 10″ है और मेरे लण्ड की साइज़ 7″ है। दिन का ज़्यादातर समय कॉलेज में ही जाता है। इसलिए बाहर चुदाई का कोई सेट्टिंग नहीं होता।

यहाँ हॉस्टल में रहने की वजह से कॉलेज के किसी माल को भी नहीं चोद सकते क्योंकि अगर पकड़े गए तो कॉलेज का प्रिंसिपल घर बता देगा और घर वाले मेरी गांड फाड़ देगे।

मुझे सिर्फ मुठ से ही काम चलाना पड़ता है पर मेरे एक दोस्त ने मुझे चुदाई करने का एक और तरीका बताया वो है फ़ेसबुक।

उसने कहा कि अगर हम यहाँ के शहर में रहने वाले माल को फ़ेसबुक पर खोज करके उनके साथ चैट करके पटा ले तो रविवार के रविवार चुदाई का जुगाड़ हो सकता है।

मैंने उसकी बात मानते हुए फ़ेसबुक पर ऐसी लड़की को खोज करना शुरू किया जो राजकोट का रहने वाला हो। काफ़ी देर तक खोज करने के बाद मुझे तीन लड़कियाँ मिली जो राजकोट में रहती थी।

मैंने उन तीनों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा और फिर कॉलेज चला गया। कॉलेज में फिर से वही बोरिंग दिन था, जैसा रोज होता है पर मैं दिन भर उन्हीं तीन लड़कियों के बारे में सोच रहा था।

शाम को जब मैं वापस हॉस्टल में लौटा तो सबसे पहले मैंने अपने लैपटॉप से फ़ेसबुक पर लोगइन किया तो देखा कि उन तीनों में से दो ने दोस्ती स्वीकार कर ली है।

मैंने उन 2 लड़कियों को जिनमें से एक का नाम सरोज पटेल और दूसरी का नाम प्रिंसेस दिशा था। उनको हाय लिख कर मेसेज कर दिया और फिर नहाने चला गया।

जब मैं नहाकर आया तो देखा कि एक मेसेज आया हुआ है और वो प्रिंसेस दिशा का था। जिसमें उसने लिखा था, हेलो नवजवान!

मैंने पहले उसका प्रोफाइल चेक किया, जिसमें उसकी मस्त सेल्फी प्रोफाइल रखी हुई थी। अब हम दोनों में बातें होने लगी जैसे कि क्या करते हो?, क्या खाया आज?, वगैरह.. वगैरह..

मैंने हिम्मत करके उससे पूछा, कि कोई बाय्फ्रेंड है?

चैट द्वारा सेक्स का मौका

उसने कहा, कि वो शादीशुदा है!

यह सुनते ही मेरा मूड खराब हो गया पर फिर सोचा, क्या फर्क पड़ता है। मुझे तो सिर्फ़ चूत से मतलब है और वो इसके पास है।

मैंने उससे पूछा, कि मुझसे चैट क्यों कर रही हो?

उसने बताया, कि वो अपनी जीवन से परेशान हो चुकी है रोज वही पति और बच्चों का काम कर के। इसलिए अब वो कुछ नया करना चाहती है, तो सोचा कि कोई दोस्त ही बना लूँ!

मैंने कहा- ठीक है! फिर मैंने कहा, मुझे उससे मिलना है।

उसने कहा- ठीक है! इस रविवार को रेस-कोर्स गार्डेन में मिलेंगे, फिर उसने बाय कह कर चैट बन्द कर दिया।

मैं बेसब्री से रविवार का इंतज़ार करने लगा और रविवार में अभी दो दिन बाकी थे। दो दिन बाद, आख़िर वो दिन आ ही गया।

मैंने अपने लण्ड से कहा- बेटा आज तुझे जो चाहिए! वो तुझे मिल कर ही रहेगा। रविवार को ठीक 10 बजे मैं टिप-टॉप तैयार हो कर रेस-कोर्स गार्डेन जाने को निकल पड़ा।

वहाँ पहुँच कर मैंने दिशा को कॉल किया तो उसने कहा, कि वो फन वर्ल्ड के पास बैठी है। मैं भी फिर जल्दी से फन वर्ल्ड के पास चला गया।

जैसे ही मैं वहाँ पहुचा तो देखा, कि वहाँ थोड़े ही लोग बैठे थे और इतने में ही मेरी नज़र एक लड़की पर पड़ी जो बहुत ही अच्छे से तैयार होकर जीन्स टी-शर्ट पहन कर बैठी थी।

वो ही थी दिशा और उसने भी मुझे पहचान लिया था, इसलिए वो मुझे देख के मुस्कुरा रही थी। क्या माल लग रही थी वो! बस मन कर रहा था अभी जा कर चोद दूँ।

मैं अपने पर थोड़ा काबू कर के उसके पास पहुँचा उसने हाय! कहकर अपना हाथ बढ़ाया। मेरा मन तो उसके बड़े बड़े चूचे पकड़ने को कर रहा था, पर अभी सिर्फ़ हाथ से कम चला लिया।

भाभी ने चोदने के इशारा किया

हम कोने में बैठकर बातें करने लगे तो इस बीच उसने बताया, कि आज उसके पति और बच्चे शहर के बाहर मंदिर गए है। तब मुझे पता चल गया कि यह दिशा को चोदने के लिए खुला आमंत्रण है।

मैंने भी कह दिया, कि अगर पहले बताया होता तो सीधा तुम्हारे घर ही आ जाता तो वो शर्मा गई। पर क्या बताऊँ आपको क्या कमाल लग रही थी!

Comments

Scroll To Top