पति हो ड्राइवर तो पत्नी की जाए हर कोई चूत मार कर

4 min read

Hindi Sex Stories Padhne Waale Mere Readers Kya Ye Jante Hain Ki Lagbhag Har Nasal Ka Kutta Bhi Masturbate Karta Hai..

लेखक – करण

दोस्तो ये मारी आज पहली बार सेक्स की बात आपके सामने साझा कर रहा हूँ, उम्मीद है आपको पसंद आएगी.

कहानी में उतना चटपटा नहीं होगा पहली बार का सेक्स था अनिता के साथ.

मेरा नाम करण है, मेरी उम्र 26 साल है, मैं नाँदेड (महाराष्ट्रा) का रहने वाला हूँ.

अब कहानी साझा करता हूँ..

मस्त कहानियाँ हैं, मेरी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर !!! !!

अनिता, एक शादीशुदा औरत थी.. उसका पति एक ड्राइवर था..

उसकी उम्र 40 थी तो अनिता की 24..

दोनों मे इतना अंतर था.

अनिता की सेक्स की आग अब ओ पूरी नहीं कर पाता था, तो अनिता, मंगेश के साथ फ्रेंडशिप करके चुपके – चुपके सेक्स करती.

मंगेश मेरा खास दोस्त था और वो अपनी सारी बाते मुझे बताता था..

अनिता की बात भी उसने मुझसे नहीं छुपाई थी.

अनिता दिखने मे एकदम लड़की लगती उसके होंठ बहुत अच्छे लगते थे, देखते ही काटने का मन करता.

अनिता का पति, जब बाहर जाता तो वो मंगेश को फोन करती और मंगेश को कभी – कभी बाइक पर मैं अनिता के घर के पास ड्रॉप करता.

एक दिन मंगेश मुझे अनिता को मिलाने ले गया..

मैं थोड़ा घबरा गया, उसे देखकर उसे वही चोद्ने का मन कर रहा था कंट्रोल करके बैठा रहा.

अनिता से ये बात छिपी नहीं रही उसने मंगेश से मेरा नंबर लेकर मुझे कॉल किया और बोली – आज मंगेश के बदले तुम आओ प्लीज़… मैं खुश हो गया लेकिन मन मे घबराहट हो उठी…

मैं उसे चोद पाउँगा या नहीं, थोड़ी देर बाद मैं उसके घर पहुच गया..

उसने दरवाजा खोला उसने नाइटी पहनी हुई थी, उसने मुझे अंदर लिया और डोर क्लोज़ कर दिया.

उसने मुझे जूते निकाल कर पलंग के नीचे रखने के लिए कहा..

मैंने वैसा ही किया अब वो मेरी गोद मे आकर बैठ गई.

मैंने घबरा कर उससे कहा – मंगेश को बुरा लगा तो…

अनिता बोली – मेरा पति, मुझे इन मामले मे कुछ नहीं कह सकता तो वो कौन होता है…

उसने मुझे कपड़े उतारने को कहा..

मैंने वैसा ही किया…

मैं अब अंडरवियर मे था उसने भी अपनी नाइटी निकाल फेंकी..

मेरे शरीर से लिपटने लगी और किस करने लगी.

मैं भी उसको पूरा सहयोग कर रह था. उसके छोटे छोटे स्तनो को मुँह मे भरकर खूब चबा रहा था और वो भी भी मुँह से आवाज़े निकाल रही थी.

मैंने निप्पल को दांतो से हल्के से काटता जा रहा था. उसकी आवाज़े भी बढ़ रही थी. उसने मेरे अंडरवियर को नीचे खिचकर निकाल फेका और लण्ड देख कर कहने लगी – काश, ये मुझे पहली बार मिला होता तो आज मैं इस तरह चुद्वाति ना फिरती…

मैंने उसको बिस्तर पर लेटा कर उसे खूब मसलता रहा..

उसका पूरा बदन जैसे मेरे स्पर्श का प्यासा था.

मैं उसके शरीर के हर हिस्से को चूमता हुआ उसे पूरा आनंद देने की कोशिश कर रहा था.

उसमे पूरा सफल भी रहा, मुझे अनिता के चहरे पर सुकून दिख रहा था.

मैंने अपना लण्ड अनिता के चूत पर रखा और धीरे – धीरे रगड़ने लगा..

वो बहुत तड़प रही थी. उसकी चूत बहुत सारा पानी छोड़ चुकी थी.

मैं अपना लण्ड अंदर जैसे ही सरकाया वो चरमरा उठी उसकी पैरो की उंगलिया अकड़ रही थी.

अंदर बाहर करके मैंने अपना लण्ड पूरा अंदर घुसेड़ा उसके मुँह से – आह ह उम्म्म्म म मम म मम म… आह ह… चीख निकल गई.

थोड़ी देर बार अनिता बोली – आज तक मुझे किसी ने उठा कर नहीं चोदा…

मैंने कहा – मैं ये ख्वाहिश पूरी कर देता हूँ…

मैंने उसकी कमर के नीचे हाथ डाल कर उसे उठा लिया और उसने मेरे गले में अपने हाथ डाल दिए..

मैं ज़ोर – ज़ोर से उसे धक्के मारता गया.

10 मिनिट बाद, मेरा पानी छूट गया.

हम दोनों, बेड पर निढाल होकर पड़े रहे.

दोस्तो कैसी लगी कहानी ज़रूर अपना मत भेजना.

Hindi Sex Stories Me Pati Ho Driver To Patni Ki Jaaye Har Koi Chut Maar Kar Aapko Kaisi Kagi..

Written by

मस्त कामिनी

Leave a Reply