मेरी गर्लफ्रेंड मेरी लाइफ पार्टनर

(Meri Girlfriend Meri Life Partner)

अपनी गर्लफ्रेंड के साथ चुदाई के हसीन पल को बताने वाली desi sex kahani आप दोस्तों को अच्छी लगती होगी तो मेरी वे हसीन पलों का आनंद इस कहानी में लीजिये..

हैलो दोस्तों, मैं तुषार अरोड़ा आप सबको अपने जीवन का सबसे हसींन पल को शेयर कर रहा हूँ। मेरी उम्र 22 साल है।
ये स्टोरी मेरी गर्लफ्रेंड शिवानी और मेरी सेक्स लाइफ की है। हम दोनों ही मैकेनिकल इंजिनियर हैं और अब दोनों देहरादून में रहते हैं।

शिवानी की उम 20 साल है। उसके बोब्बे 32 के हैं और कमर 26 और गांड 30 की है। वो हमेशा से वाइल्ड सेक्स पसंद करती है। कॉलेज के टॉयलेट में बहुत बार हमने एक दुसरे के लंड और चूत को बहुत चूसा है।

शिवानी देहरादून शिफ्ट होने को कह रही थी बहुत टाइम से इसलिए इस महीने वो आ गई और शाम को उसका फ़ोन आया की बेबी आज आ जाओ साथ डिनर करते हैं।
मैं हॉस्टल से शिवानी के फ्लैट पर आ गया वो बहुत ज्यादा मस्त लग रही थी। मैंने उसको गले से लगा लिया और लिप्स को चूसने लगा और वो भी गरम होने लगी और जोर से पकड़ कर चूसने लगी।

मैंने सोफा पर बैठाया और नेकर उतार कर पैंटी के उपर से चूत चूसने लगा। शिवानी बहुत जादा गरम थी तो उसने जल्दी ही अपना पानी मेरे मुँह में नीकाल दिया और मेरे लिप्स को चूसने लगी और मुझे गले से लगा कर लेट गयी।

इसके बाद शिवानी ने पैंटी को मेरे मुँह पर मारा और नेकर पहन कर खाना लेने चली गयी। उसके बाद हमने खाना खाया फिर हम छत पर चले गये।
कुछ देर बातें करने के बाद वो मेरे हाथ को सहलाने लगी और मुझे गले से लगा कर मेरे गरदन पर अपनी जीभ से चाटने लगी और मेरे हिप्स को अपनी तरफ दबाने लगी।

फिर हम नीचे आ गये और मैंने उसको बेड पर लिटा लिया और उसके लिप्स को चूसने लगा।
शिवानी भी जोर जोर से चूस रही थी और अपने पैरों को मेरे उपर लपेट लिया।
शिवानी- जान अच्छे से चूसो ना बहुत दिन से मन कर रहा था मेरा की मेरा हनी मुझे चूसे मुझे बहुत प्यार करे।

मैं अब उसके चूचियाँ को दबाने लगा और शिवानी जोर जोर से चिल्ला रही थी। फिर मैंने उसको टॉप को उतारा और उसकी चूचियों को दबाने लगा और चूसने लगा।
उसके निप्पल को जोर जोर से चूस रहा था और शिवानी अपना हाथ नेकर में ड़ाल कर चूत को रगड़ रही थी।

शिवानी- जान मेरा आने वाला है जल्दी चूत पर मुँह रखो। मुझे उसकी चूत का पानी बहुत अच्छा लगता है। मैंने अपना मुँह चूत पर रखा और चूत के दाने को चाटने लगा और शिवानी ने फिर से मेरे मुँह में पानी निकाल दिया।

उसने मुझे किस किया और पेशाब करने चली गई और मैं आइसक्रीम लेना चला गया। वापस आ कर मैं शिवानी के पास लेट जाता हूँ और उसके उपर पैर रख लेता हूँ और वो मेरे बालो को सहलाने लगती है।

शिवानी- जान आज हम एक बार करेंगे और फिर सुबह करेंगे पर पूरी रात हम एक दुसरे को बहुत ज्यादा चूसेंगे और चाटेंगे।
मैं- हाँ बेबी हम बहुत प्यार करेंगे। मैंने उसको आइसक्रीम दी और थोड़ी उसके चूचियों पर लगाने लगा और अपने मुँह को उसकी चूचियों पर रख कर उसके निप्पल को चाटने लगा और बीच बीच मैं काट रहा था।

वो फिर चिल्लाने लगी और मेरे पीठ को सहलाने लगी और मैं उसके निप्पल चूस रहा था और चूचियों को दबा रहा था।
शिवानी ने मुझे उपर खींचा और फिर से मेरे लिप्स चूसने लगी जोर जोर से और वो मचलने लगी।

दोस्तों मैं आपको बता दूं की शिवानी की चूत से पानी बहुत ज्यादा आता है और वो चाहती है की मैं हर बार उसका पूरा पानी पी लूँ। सच पूछो तो मुझे भी बहुत अच्छा लगता है उसकी चूत चाटना उसको चूसना।

अब मैंने उसको सोफा पर लिटाया और उसकी पैरों को खोला और चूत पर मुँह रख दिया और उसके दाने को चाटने लगा और शिवानी अपने हाथों से चूचियाँ दबा रही थी।
उसका दाना बहुत मस्त हो रहा था। मैं चूसते चूसते उसके चूत के लिप्स को चाटने लगा और गांड को दबा रहा था । शिवानी चिल्ला रही थी वो चाह रही थी की मैं उसकी चूत में लंड डाल दूँ।

उसकी चूत को चाटते चाटते मैं उसके चूत के छेद पर आ गया और पानी चाटने लगा और जीभ को अंदर तक डालने लगा।
शिवानी से रुका नही गया और उसने मुझे नीचे लिटाया और मेरे लंड को हाथ से सहलाने लगी।
लंड से जो पानी निकल रहा था उसे चाटने लगी और लंड को चूसने और चाटने लगी।

शिवानी का निकलने वाला था तो वो चूत कप जोर जोर से मेरे लंड पर मारने लगी और मुझे पकड़ कर मेरे गालो को चाटने लगी और एक जोर सी चीख के साथ वो झड गयी और एक दो धक्का मारने के बाद मैं भी झड गया।

Comments

Scroll To Top