सोनिया के साथ हसीन चुदाई की रात

(Meri Sex Stories : Soniya Ke Sath Hasin Chudai Ki Raat)

मेरा नाम अक्षय है.. मैं खंडवा में रहता हूँ। मेरी उम्र 20 साल है.. रंग गोरा ऊंचाई 6 फीट और लम्बा लंड है।

मैं अभी इंजीनियरिंग सेकेण्ड इयर सिविल से कर रहा हूँ। मुझे लड़कियों से ज्यादा 24-25 साल की औरतों को चोदना अच्छा लगता है। Meri Sex Stories काफी हैं, उन्ही में से एक कुंवारी लड़की की चूत की कहानी बता रहा हूँ. मैं काफी औरतों को चोद चुका हूँ।

मेरे घर के पड़ोस में एक मैडम रहने आईं.. उनका नाम प्रियंका है। उनका फिगर 36-32-36 का होगा। वो काफी खूबसूरत हैं।

मैं काफी दिनों तक उनको चोदने का प्लान बनता रहा। मैंने उनसे काफी अच्छी दोस्ती कर ली। उनका एक 3 साल का लड़का है.. पर फिर भी वो एक कुंवारी लड़की लगती थीं। उनकी उम्र लगभग 24-25 साल होगी। वो नई-नई ही गांव में आई थीं.. तो उनको कोई जानता भी नहीं था।

एक दिन उनके लड़के का जन्मदिन था.. तो उस लिए उन्होंने मुझे सजावट के लिए अपने घर बुला लिया। अब तक तो मैं मैडम को चोदना चाहता था.. पर में जैसे ही उनके घर गया। मैंने देखा कि मैडम की बहन की लड़की आई हुई थी। उसका नाम सोनिया था।

क्या लग रही थी.. गोरा रंग पतली कमर उसकी उम्र 18 साल की होगी। मैं उसे देख कर तो मानो मैडम को भूल ही गया। उसका फिगर 32-28-30 का होगा.. उस दिन तो मेरी मानो लाटरी लग गई हो।

अब वो यहीं पर पढ़ाई करने के लिए आ गई। अब हम दोनों उसका स्कूल में एडमिशन होने के बाद करीब 2 महीने बीत गए। हम दोनों अब अच्छे दोस्त बन गए थे। धीरे-धीरे हम इतनी खुल कर बातें करने लगे। जैसे सेक्स के बारे में एक दिन मैंने उससे अपने प्यार का इजहार कर ही दिया। उसने भी ‘हाँ’ कर दी। अब मैं बस उसे चोदने के मौके ढूँढता रहता।

एक दिन मैडम को स्कूल के काम से इंदौर जाना पड़ा.. तो वो अपने पति के साथ गई थीं। घर पर सोनिया अकेली थी.. तो मैडम उसकी जिम्मेदारी मुझे सौंप कर गई थीं।

मैं खुश था कि आज तो मेरी सुहागरात है। हम दोनों रात होने का इन्तजार करते रहे.. आखिर रात हो ही गई और आज में सातवें आसमान पर था।

मैं रात को लगभग 8 बजे उसके घर गया। जैसे ही मैं अन्दर गया। मैंने देखा सोनिया मेरे लिए एकदम सज-संवर कर कोई दुल्हन की तरह बैठी थी। फिर मैं भी उसके पास जाकर बैठ गया। मैंने बातों-बातों में मजाक में उसे बिस्तर पर गिरा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया।

अब वो मेरे इरादे को तो समझ ही गई थी और शायद वो भी यही चाहती थी।

जैसे ही मैं उसके ऊपर चढ़ा.. उसने मुझे अपनी बांहों में समेट लिया।

मैंने भी उसे अपने आगोश में ले लिया। फिर मैंने धीरे-धीरे उसके गालों पर किस किया और उसके बाद उसके होंठों को चूसना शुरू किया।

क्या बताऊँ आपको.. मुझे इतना मजा आज तक नहीं आया। कुछ मिनट तक उसे किस करता रहा और उसके आम जैसे स्तनों को दबाता रहा। मैंने धीरे-धीरे उसके सारे कपड़े उतार दिए। उसने भी मेरे कपड़े उतार दिए। हम दोनों बिल्कुल नंगे थे।

मैं उसके स्तनों को इस कदर चूस रहा था मानो कोई आम खा रहा होऊँ। फिर मैं उसकी चूत तक पहुँचा.. पूरी चिकनी चूत.. एक भी बाल नहीं था।

Comments

Scroll To Top